फेसबुक ने एप्पल, माइक्रोसॉफ्ट व अमेजन समेत अन्य कंपनियों को बेचा यूजर्स का डेटा, रिपोर्ट में दावा

आज कल मीडिया:

फेसबुक के लिए ये साल अच्छा नहीं रहा है। दुनिया जहां क्रिसमस का जश्न मनाने की तैयारी कर रही है, वहीं फेसबुक के लिए एक और बुरी खबर आई है। एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि फेसबुक ने बड़े टेक फर्म को अपने यूजर्स का डेटा बिना उनकी इजाजत के बेच दिया है। न्यूयॉर्क टाइम की रिपोर्ट के मुताबिक सोशल मीडिया दिग्गज फेसबुक ने माइक्रोसॉफ्ट, अमेजन, याहू और एप्पल को अपने यूजर्स का डेटा उनकी जानकारी के बिना दे दिया है। फेसबुक पहले भी डेटा शेयरिंग को लेकर विवाद में रह चुकी है। 

 

न्यूयॉर्क टाइम्स की ये रिपोर्ट इंटरनल रिकॉर्ड और इंटरव्यू पर आधारित है। रिपोर्ट के कहा गया है कि दुनिया की बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनी ने यूजर्स के पर्सनल डेटा को लीक किया है। ये डेटा उन कंपनियों को दिया गया है जो फेसबुक के साथ बिजनेस पार्टनर हैं। 

 

इसके साथ ही रिपोर्ट में कहा गया है कि सोशल मीडिया ने अमेजन को भी अपने यूजर्स का डेटा दिया है। इस डेटा में यूजर्स का नाम और कॉन्टैक्ट की जानकारी है। इसके साथ ही याहू को यूजर्स के दोस्तों के पोस्ट देखने तक की छूट दी गई। ये सारी घटना उस वक्त हुई है, जब फेसबुक ने दावा किया था कि उसने इस साल की शुरुआत में ही इस तरह की सभी प्रक्रिया पर रोक लगा दी है। 

 

वहीं माइक्रोसॉफ्ट के सर्च इंजन बिंग को फेसबुक ने यूजर्स के दोस्तों के नाम सर्च करने का एक्सेस दिया है। इस डेटा लीक में स्पोटिफाई और रॉयल बैंक ऑफ कनाडा भी शामिल हैं। इन्होंने यूजर्स के प्राइवेट मैसेज को पढ़ा, लिखा और डिलीट भी किया है।

 

वहीं फेसबुक ने एप्पल को उन सभी इंडिकेटर को हाइड करने की क्षमता दी, जो आई डिवाइस यूजर्स से फेसबुक डेटा का एक्सेस मांगता है। एप्पल डिवाइस के जरिए कंपनी के पास यूजर के कॉन्टैक्ट और कैलेंडर का एक्सेस मिलता है। हालांकि एप्पल का कहना है कि उन्हें इस प्रकार के किसी एक्सेस के बारे में कोई जानकारी नहीं थी।